What is Cyber ​​Grooming ? How to protect your children from it ?

Cyber Grooming क्या हैं ? अपने बच्चों और खुद को इससे कैसे बचाएँ ?

भारतीय प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र दास मोदी का लक्ष्य है की हमारा भारत देश भी फॉरेन कंट्री की तरह डिजिटल इंडिया के तरफ बढे और भारत देश की जनता भी कैशलेस पेमेंट की तरफ आगे बढे और धीरे – धीरे भारत देश भी कैशलेस कंट्री या डिजिटल भारत का निर्माण हो सके। और ऐसा संभव होना दिख रहा है क्योकि आज कल  बहुत से लोग स्मार्ट फोन  मोबाइल का  प्रयोग कर रहे हैं चाहे वो बच्चा हो या कोई नौजवान व्यक्ति। समय को व्यक्त करने या कुछ मनोरंजन तथ्य के लिए मोबाइल उपयोगकर्ता कुछ मोबाइल एप्लीकेशन का प्रयोग करते हैं और अपना खली समय उस एप्लीकेशन के जरिये मनोरंजन कर व्यतीत करते हैं। ऐसे में सोशल नेटवर्किंग साइट्स जैसे की WhatsApp, Facebook, Twitter और Instagram पर अधिकांशतः लोग अपना समय व्यतीत करते हैं इन ऍप्लिकेशन्स का हर कोई दीवाना है, खासकर छोटे किशोर लड़कों और लड़कियों के बीच इसका बहुत ही काफी क्रेज़ है।

What-is-Cyber-Grooming-and-How-to-Avoid-from-Cyber-Grooming

हम आपको बता दें की सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर अपनी फोटो या सेल्फी पिक्स के ऊपर पर ज्यादा लाइक्स पाने के चक्कर में बच्चे ऑनलाइन ग्रूमिंग का शिकार हो रहे हैं। साइबर क्रिमिनल्स उनको उकसाकर उनकी अश्लील तस्वीरें या वीडियो हासिल कर रहे हैं और इन्हीं के आधार पर ब्लैकमेल किया जा रहा है। ये क्रिमिनल्स इतने चालाक होते हैं की ब्लैकमेलिंग में भी बच्चों से रकम के बजाए उनसे उनकी अश्लील तस्वीरें या वीडियो मांगे जाते हैं। इसके बाद वह इन वीडियोज और तस्वीरों को चाइल्ड पोर्नोग्राफी के लिए अश्लील वेबसाइट को बेच दिया जाता है। ये क्रिमिनल्स अपनी चालाकी से कइयों से तस्वीर और वीडियो लेकर उन्ही को धमकाते भी हैं और पैसो की डिमांड करते हैं और वो डिमांड इतना होता है की उन भोले और सीधे बच्चों को उनके डिमांड को पूरा करना बहुत ही कठिन हो जाता है। एक सर्वे के मुताबिक, जाना जाता है की चाइल्ड पोर्नोग्राफी के लिए अलग-अलग वेबसाइट पर अपलोड किए गए तक़रीबन 40 फीसदी से ज्यादा वीडियोज ऑनलाइन ग्रूमिंग का ही नतीजा है। 

Cyber Grooming क्या हैं ?

Cyber Grooming – साइबर ग्रूमिंग एक ऐसी प्रथा है जहां कोई व्यक्ति यौन शोषण के लिए उनका विश्वास हासिल करने के उद्देश्य से सोशल मीडिया या मैसेजिंग प्लेटफॉर्म के माध्यम से बच्चों के साथ भावनात्मक बंधन बनाता है। साइबर ग्रूमिंग बच्चों और किशोरों के सामने आने वाले प्रमुख साइबर खतरों में से एक है जो लगातार रूप में बढ़ रहा है। 

शुरुआत में साइबर ग्रूमर्स आपको कॉम्प्लिमेंट्स, गिफ्ट्स, मॉडलिंग जॉब ऑफर दे सकते हैं और बाद में वे अश्लील मैसेज, तस्वीरें या वीडियो भेजना शुरू कर सकते हैं और आपसे भी आपकी सेक्सुअल इमेज या वीडियो उनके साथ शेयर करने को कहेंगे। बच्चों से उनकी फोटो और वीडियो पाने के लिए वे तरह-तरह के हथकंडे अपनाते हैं। उनसे अश्लील बातचीत करते हैं, खुद की न्यूड फोटो या वीडियो भेजते हैं और सामने वाले से भी ऐसा ही करने के लिए कहते हैं। इसके अलावा वे वेबकैम पर न्यूड हो जाते हैं और बच्चे से भी ऐसा ही करने के लिए कहते हैं और बच्चे के न्यूड होने पर रिकॉर्डिंग कर लेते हैं। ये जरूरी नहीं है कि अगर आप पुरुष हैं तो पुरुष ही यह काम करेगा। महिलाएं भी इस काम में हैं। इससे अपोजिट सेक्स वाले लोग आसानी से फंस जाते हैं।

साइबर ग्रूमर Gaming Website, Social Media, Email Chat Rooms, Instant Messaging जैसे प्लेटफार्म का इस्तेमाल करके बच्चों और किशोरों को अपने जाल में फ़साते है। हम में से कई लोगों को यह भी एहसास नहीं है कि हम Online Grooming का शिकार हो रहे है ? ऑनलाइन ग्रूमर एक ज्ञात व्यक्ति, रिश्तेदार या अज्ञात व्यक्ति हो सकता है, जिनसे हम सोशल मीडिया साइट पर ऑनलाइन मिले थे। ऑनलाइन ग्रूमर  Teenager लडके और लड़कियों को टारगेट करते हैं, क्योंकि उनको साइबर क्राइम के बारे में ज़्यदा जानकारी नहीं होती और इसलिए वह बड़ी आसानी से उनके जाल में फास जाते है।

साइबर ग्रूमिंग का एक बच्चे के शारीरिक, भावनात्मक और साथ ही मनोवैज्ञानिक कल्याण पर गहरा प्रभाव पड़ता है। यह न केवल उनके शैक्षणिक प्रदर्शन को बल्कि उनके दैनिक जीवन को भी काफी हद तक प्रभावित करता गई । Online Grooming के विनाशकारी प्रभाव कभी-कभी दीर्घकालिक हो सकते हैं और यहां तक कि पीड़ित को उनके वयस्कता में भी परेशान कर सकते हैं।

आप चिंतित ना हों यदि आप Cyber Grooming के बारे में चिंतित हैं ? तो चिंता न करें आप बिना किसी डर के इंटरनेट और mobile technology का उपयोग कर सकते हैं। बस आपको साइबर ग्रूमिंग के खिलाफ खुद को और अपने बच्चे को बचाने के लिए सावधान रहने की ज़रुरत है और सुरक्षा का पालन करने की आवश्यकता है।

 यह भी पढ़ें 

What is electric carrying force and voltage 

Cyber Grooming का शिकार बनने से खुद को कैसे बचाएं ?

सबसे पहला बचाव है की,

(1) Social Media Platform पर किसी भी Unknown Person की Friend Ship Request को accept  न करें और नहीं उन्हें किसी भी तरीके से follow करें। 

(2) Social Media Platform पर कभी भी अपनी Personal Information जैसे की Date of Birth Phone Number को किसी के साथ शेयर न करें। ऐसा सुविधा दिया जाता है की जब आप किसी भी सोशल एप्लीकेशन का उपयोग करते हैं तो उस एप्लीकेशन की Privacy Setting में जाकर वहां पर यह Select कर सेटिंग कर सकते हैं की कौन-कौन आपके पोस्ट को सोशल मीडिया पर देख सकता है।

(3) जब आपका चैट पार्टनर आपको आपके परिचित से थोड़े ही समय में आपकी सुंदरता की बहुत ही तारीफ करता हैं, तो सतर्क रहें।

(4) हमेशा उन लोगों से बात करने में सतर्क रहें, जो आपसे आपके शारीरिक या यौन अनुभव से जुड़े सवाल पूछ रहें हों। आप उस व्यक्ति से कह सकते हैं कि वह आपसे ऐसे सवाल करना बंद कर दें, आप असहज महसूस करते हैं। यदि वे ऐसा ही करना जारी रखते हैं, तो तुरंत अपने घरों में किसी अपने बड़े से या अपने माता-पिता को बताएँ। 

(5) यदि आप किसी व्यक्ति के साथ अपनी कामुक फोटो या वीडियो साझा करते हैं, तो व्यक्ति इन तस्वीरों को दूसरों के साथ साझा कर सकता है या उन्हें सोशल मीडिया पर पोस्ट कर सकता है। या वे आपको ब्लैक मेल भी कर सकते हैं। इसीलिए उन लोगों से बात न करें, जो आपसे आपकी कामुक तस्वीरें या वीडियो साझा करने के लिए कहते हैं।

(6) किसी भी अनजान व्यक्ति के साथ सोशल मीडिया पर Video Call करेने से बचें। 

(7) आप अपने मोबाइल या कंप्यूटर में Unwanted सॉफ्टवेयर या एप्लीकेशन जो आपके काम का नहीं हों और कुछ काम का हो जैसे की Online Game, Dating App, को Unknown Source से कभी भी Install न करें। 

अगर आप साइबर ग्रूमिंग के शिकार हैं तो आप क्या कर सकते हैं ?

ध्यान देने वाली बात है यदि आप Cyber Grooming के Victim हैं तो नीचे दिए गए कुछ सुझाव उस तरह के स्थिति-Situation को Manage करने में सहायक हो सकते हैं। सबसे पहले,

Inform your parents/Elders Immediately

यदि आपको सोशल मीडिया पर परेशान किया जा रहा है तो  तुरंत इसकी जानकरी अपने पैरेंट्स को दें।  कभी भी यह न सोचे की अगर यह अपने पेरेंट्स से शेयर करेंगे तो वह आपके कंप्यूटर, मोबाइल इस्तेमाल करने पर पाबन्दी लगा देंगे ऐसा कभी न सोचे। उन्हें सूचित करना महत्वपूर्ण है ताकि वे समय पर आपकी मदद और मार्गदर्शन कर सकें। पूरे मामले को स्पष्ट रूप से अपने माता-पिता को बताएं।

(2) Identify the Cyber Groomer

यह जानने की कोशिश करें कि क्या धमकाने वाला व्यक्ति आपका जानने वाला है या कोई अजनबी व्यक्ति है और वह आपको क्यों  परेशान कर रहा है। आप धमकाने तक पहुंचने के लिए अपने माता-पिता या दोस्तों की मदद ले सकते हैं और उसे आपको धमकाने से रोकने के लिए कह सकते हैं।

Block the Cyber Groomer

यदि आपको परेशान करने वाला व्यक्ति सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर रहा है तो आप उसे ब्लॉक कर सकते है। सभी सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर किसी भी Users को ब्लॉक करने सुबिधा उपलब्ध है।

Collect and Save Post/Message

यदि वह व्यक्ति जो एक Cyber Groomer और वह आपके Against सोशल मीडिया पर कोई पोस्ट डाल रहा हो या आपको मैसेज कर रहा हो तो उन पोस्ट और मैसेज को सबूत के लिए अपने पास सुरक्षित कर संभाल कर रखें, ताकि जब आपको उसके खिलाफ कानूनी एक्शन लेने की जरुरत परे तो ये सबुत काम आ सकता है। 

Never Respond to a Bully Aggressively

यदि Cyber Groomer के द्वारा आपको किसी भी प्रकार का ऐसा सन्देश प्राप्त होता है या सोशल साइट पर ऐसी पोस्ट आती है जिससे की आप क्रोधित हो सकते हैं और बेचैन हो सकते हैं तो ऐसे किसी भी पोस्ट या सन्देश का उत्तर आप न दें 

Contact Local Police

यदि Cyber Groomer आपके बार-बार मना करने के बावजूद भी वह आपको परेशान कर रहा है और आपको सोशल साइट पे डराने, धमकाने या भयभीत करने से सम्बंधित सन्देश या पोस्ट आते हैं, तो इसकी सूचना आप अपने निकटतम पुलिस स्टेशन में जा कर प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज कराएँ। 

Conclusion

दोस्तों आज की इस पोस्ट से हमने जाना की Cyber Grooming क्या हैं और अपने बच्चों को इससे कैसे बचाएँ ? दोस्तों हमें उम्मीद है की आज की यह पोस्ट आपको जरूर पसंद आयी होगी। कृपया इस पोस्ट को अपने दोस्त और रिश्तेदारों के साथ शेयर करें ताकि अधिक – से – अधिक लोगों को इसके बारे में जानकारी मिले और ऐसी घटना घटने से बचें। 

धन्यबाद।

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published.