What is SEO In Hindi ? Learn SEO Self

हेलो दोस्तों,
जैसे की हमलोग जानते  हैं की आजकल जीवन में सबकुछ घर बैठे मिलना आसान हो गया है। आप कुछ चाहे वो सभी चीजे घर बैठे ऑनलाइन आसानी से मंगवा सकते हैं। यहाँ तक की आप चाहे तो घर बैठे ऑनलाइन पैसे भी कमा सकते हैं। तो अब हमलोग Online Digital World में रह रहे है जहाँ पर हर चीज़ ऑनलाइन मौजूद मिलते हैं।  चाहे वो खाने से लेकर कपड़े तक और सुई से लेकर धागे तक सब कुछ हम घर बैठे online मँगवा सकते है।
और ऐसा इसलिए संभव हो पा रहा है, क्योंकि अब हर व्यक्ति अपनी मौजूदगी ऑनलाइन पर ही दर्ज करवाना चाह रहा है। और विश्व डिजिटल बाजार बनता जा रहा है और बन चूका है। ज्यादा से ज्यादा लोगो तक सीधे पहुंचने का यह बहुत ही अच्छा माध्यम बन चूका है, इसके कई फायदे भी देखने को मिले है। बस जरुरी यह है की आपको अपनी उपस्थिति को लोगों की नज़रो में लाने के लिए प्रयास करने होंगे।
तो अब इसके लिए आपको अपने Website का SEO और SMO करना आना चाहिए। आप चाहे तो बाहरी मदद भी ले सकते हैं। SEO और SMO विशेषज्ञो की भर्ती कर आप यह कर सकते है, पर यह बहुत महँगा सौदा है। इसे बरक़रार रखने के लिए सतत प्रयत्न करते रहना बहुत जरुरी है।

क्योंकि ऐसा बिल्कुल नहीं है की आज आपकी Website Top पर आ गयी है तो आपका काम ख़त्म हो गया है, ऐसा नहीं है।
तो दोस्तों आज हम आपको बताने जा रहेँ हैं कि कैसे आप खुद अपनी Website का SEO कर सकते है और कैसे कैसे Online Digital World में सफलता पा सकते हैं। सबसे पहले SEO क्या होता है ?

What is SEO in Hindi ?

SEO द्वारा Webpages को Rank करने में मदद करने के लिए, Search Engine पर खोज को सरल बनाने के लिए, प्रतियोगियों की वेबसाइटों से ऊपर रैंक लाने के लिए इस तकनीक का उपयोग किया जाता है। यह प्रक्रिया वेबसाइट मालिकों दूवारा उपयोग की जाती है ।

What is SEO In Hindi smart knowledge sk

SEO FULL FORM

SEO का फुलफॉर्म – सर्च इंजन ऑप्टिमाइज़ेशन (Search Engine Optimization). होता है।

ऐसे कई Search Engine हैं जिन पर आप रैंक कर सकते हैं, जिसमें बिंग (Bing)और याहू (Yahoo) शामिल हैं।

अधिकांशतः इंटरनेट सर्च 80 फीसदी (80%) Google के माध्यम से किया जाता है, और इसका नतीजा, आप जिस SEO युक्तियों को पार करेंगे, वे Google द्वारा देखी गई और रैंकिंग की दिशा में तैयार हैं।
अब बारी आती है की सर्च इंजिन वेबसाइट को रैंक करते समय क्या analyse करते हैं या क्या देखते हैं।
आज कल डिजिटल दुनिया में SEO अधिक शामिल हो हो चुके हैं,
क्योंकि Search Engine ने Sites को Rank करने के तरीके के बारे में और कई पहलुओं को विकसित किया है। जैसे की शुरुआती दिनों में, URL के हिस्से के रूप में पेज का नाम रखने के लिए रैंकिंग की बाधाओं में वृद्धि हुई थी। जैसे-जैसे इंटरनेट बढ़ता गया, आदेश और विश्वसनीय परिणाम लाने में और ज्यादा  मुश्किल हो गई।
Google विशेष रूप से यह लड़ाई लड़ रहा है की खोज कर्ताओ को सही परिणाम ही दिखाए जाये, जो Web खोजकर्ताओं के लिए अच्छा है, लेकिन वेबसाइट मालिकों के लिए उतना ही कठिन भी है।
तो ये सब जानने के बाद Google क्या करता है और क्या चाहता है, आपके SEO को बेहतर बनाने के लिए एक लंबा रास्ता तय कर सकता है।
एक बात ध्यान में रखें SEO विशेषज्ञ की नई sites में SEO तकनीक का इस्तेमाल करना बहुत ही  कठिन कार्य है असंभव नहीं है। क्योंकि Google New sites के बजाये पुरानी साइटों का पक्ष ज्यादा लेता है।
Google वेबसाइट  को रैंक करने के लिए क्या देखता है इसकी बुनियादी सूची यहां निचे पढे।

(1) Keyword का उपयोग –

जब भी सर्च इंजिन Search Engines आपकी साइट पर जाते हैं तो वे पृष्ठ सामग्री और मेटा जानकारी को देखते है और फिर वो analyse करता है कि यह क्या है। जब लोग इन कीवर्ड का उपयोग (खोज शब्दों) को अपने इंजन में उपयोग करते हैं, तो वे परिणामस्वरूप आपके पृष्ठ को distributed करना जानते हैं। मतलब यह है हुआ कि आपके लिए यह जानना महत्वपूर्ण है की खोज इंजन पर कौन से शब्दों और वाक्यांशों का उपयोग लोग या खोजकर्ता करेंगे।

और यह आप खोज शब्द अनुसंधान (keyword Analysis) के माध्यम से ऐसा पता कर सकते हैं, और याद रखें की यदि कोई सर्चिंग सब्द (keyword) बहुत बार आता है, तो उस शब्द के विविधता का उपयोग करने पर अवश्य विचार करें।

(2) Outgoing Link –

ये वे लिंक हैं जो आपको किसी अन्य विशिष्ट वेबपृष्ठ या वेबसाइट पर सीधे निर्देशित करते हैं। ज्यादातर सर्च इंजिन किसी अन्य साइटों के लिंक के साथ-साथ आपकी साइट के भीतर लिंक देखना पसंद करते हैं, यानी की अपनी साइट पर अन्य सामग्री से लिंक करना ।

(3)Incoming  Link –

ये लिंक आपकी अपनी वेबसाइट के किसी अन्य साइटों से लिंक हैं। इसमें सोशल मीडिया बहुत उपयोगी हो सकता है।

ध्यान में रखे लेकिन साथ ही, आपकी सामग्री से जुड़ी अन्य गुणवत्ता वाली साइटें आपकी रैंकिंग में सुधार करने का एक लंबा सफर तय करती हैं।
सर्च इंजिन आपके द्वारा रखी गई कंपनी द्वारा आपका निर्णय लेंगे, इसलिए आपका लक्ष्य Outgoing और Incoming  Links पर होना चाहिए।

(4) Responsive Web Design –

SEO का एक अच्छा रेस्पोंस और आसानी से अपनी साइट कही भी किसी भी मशीन में जैसे मोबाइल लैपटॉप तब;टेबलेट मोबाइल में खुल सके इसके  रेस्पॉन्सिव  वेब डिज़ाइन जरुरी है। क्योकि आजकल बहुत से लोग ऑनलाइन के लिए फोन या Tablet का उपयोग करते हैं, इसलिए Google ने अब साइट के रैंकिंग के दौरान देखे जाने वाले पहलुओं में से एक के रूप में मोबाइल-फ्रेंडली वेबसाइट का होना भी शामिल किया है।

आप जब अपनी साइट को  ट्रैफिक और मुनाफे को बढ़ावा देने के लिए अपनी खोज इंजन रैंकिंग में सुधार करने के लिए यह  10 कार्य हैं जो आपको करना बहुत जरुरी है, इन सभी टिपण्णी को दिमाग में बैठा लें। निचे दिए गए हैं।

1.   सही domain name का चयन करें।

2. सही keywords का चयन करें।

3.  File names और folders में keywords का प्रयोग करें।

4.  अपने पेज शीर्षक में अपने keywords का प्रयोग करें।

5.  अपने Meta विवरण का keywords को हिस्सा बनाओ।

6.  उपयोगी keywords सामग्री बनाएँ – और दोहराये।

7.  अपने navigation में keywords पाठ का प्रयोग करें।

8.  अपने लिंक में keyword text का उपयोग करें, click here का उपयोग नहीं करे।

9.  उच्च गुणवत्ता वाली incoming links सुरक्षित करे।

10. एक site map बनाएँ।

खुद से SEO सीखना भी एक बहुत ही महत्वपूर्ण और सरल प्रक्रिया और कला  है।

इन सभी Tips का उपयोग सही तरह से करने के लिए आप खुद ही YouTube Videos देखकर या Blog Tutorials पढ़कर जानकारी प्राप्त कर सकते है और अपनी website के लिए Step-by-Step उपयोग कर सकते है।

तो दोस्तों ये थी हमारी  SEO कैसे करते हैं और SEO द्वारा अपनी वेबसाइट को  कैसे रैंक पर लाते हैं की जानकारी।

अगर ये पोस्ट आपक उपयोगी और अच्छे से समझ में आया हो तो कमेंट करें और अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे, धन्यवाद।

अब अगले पोस्ट में हम आपको बताएँगे की SMO क्या होता हैं।

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published.