धारा घनत्व किसे कहते हैं ? What is the current density ?

धारा घनत्व क्या है विवेचना करें : किसी चालक में इकाई अनुप्रस्थ काट के क्षेत्रफल से होकर जितना विद्युत धारा प्रवाहित होता है, धारा  घनत्व कहलाता है। हालांकि, विद्युत कंडक्टर के विभिन्न हिस्सों में वर्तमान घनत्व बदल जाता है और प्रभाव उच्च आवृत्तियों पर वैकल्पिक धाराओं के साथ होता है।विद्युत प्रवाह हमेशा एक चुंबकीय क्षेत्र बनाता है। करंट जितना मजबूत होगा, चुंबकीय क्षेत्र उतना ही तीव्र होगा। एसी या डीसी …

धारा घनत्व किसे कहते हैं ? What is the current density ? Read More

अनुगमन वेग क्या होता है ? What is the Drift or Trailing Velocity ?

What is the Drift Velocity in Hindi ? जब किसी चालक तार को किसी सेल दोनों प्लेट से जोर दिया जाता है तो चालक तार के सिरों के बीच विद्युत् विद्युत् क्षेत्र की दिशा हमेशा + धन सिरा से – ऋण सिरा की ओर होती है। जब इलेक्ट्रॉन सेल से निकलकर चालक तार के एक सिरा पहुँचता है तब इलेक्ट्रान पर विद्युतीय कार्य करने लगता है। जिसकी दिशा विद्युतीय क्षेत्र …

अनुगमन वेग क्या होता है ? What is the Drift or Trailing Velocity ? Read More

धारा घनत्व क्या है विवेचना करें ? What is the current density in hindi

What is the Current Density in Hindi ? वर्तमान घनत्व या विद्युत प्रवाह घनत्व विद्युत चुंबकत्व से बहुत अधिक संबंधित है। इसे क्रॉस-सेक्शनल क्षेत्र के एक इकाई मूल्य के माध्यम से बहने वाले विद्युत प्रवाह की मात्रा के रूप में परिभाषित किया गया है। एक स्थिर धारा के मामले में जो एक चालक से प्रवाहित हो रही है, वही धारा चालक के सभी अनुप्रस्थ काटों से प्रवाहित होती है। यह …

धारा घनत्व क्या है विवेचना करें ? What is the current density in hindi Read More

विद्युत वाहक बल एवं विभवान्तर में अंतर ?

What is electric carrying force and voltage? Difference between  electric carrying force and voltage? विद्युत बाहक बल और विभवांतर में निम्नलिखित अंतर होते हैं।  (1) विद्युत वाहक बल सेल के लिए प्रयोग होता है। जबकि , विभवांतर विद्युत पथ के लिए प्रयोग होता है। (2) विद्युत वाहक बल एक करना है।  जबकि विभवांतर उसका परिणाम।  (3) विद्युत वाहक बल विभवांतर से हमेसा ज्यादा होता है।  (4) विभवांतर विद्युत परिपथ में किन्ही …

विद्युत वाहक बल एवं विभवान्तर में अंतर ? Read More

What is an Electrical Conductor and Bad Conductor or Insulator ?

Difference Between Conductor and Bad Conductor चालक या सुचालक किसे कहते हैं हिंदी में । चालक या सुचालक के गुण । चालक वह पदार्थ है, जिसमे मुक्त इलेक्ट्रोनो की संख्या बहुत अधिक होती है, चालक या सुचालक कहलाता है। जैसे उदाहरण के लिए , चाँदी, सोना , ताम्बा , एल्युमीनियम , मानव शरीर , साधारण जल , इत्यादि। ये सभी चालक या सुचालक हैं जिसमे इलेक्ट्रॉनों की संख्या बहुत अधिक …

What is an Electrical Conductor and Bad Conductor or Insulator ? Read More

Electrical Conductor-Bad Conductor or Insulator in Hindi

  Difference Between Conductor and Bad Conductor in Hindi चालक या सुचालक किसे कहते हैं ? चालक वह पदार्थ है, जिसमे मुक्त इलेक्ट्रोनो की संख्या बहुत अधिक होती है, चालक या सुचालक कहलाता है। जैसे उदाहरण के लिए , चाँदी, सोना , ताम्बा , एल्युमीनियम , मानव शरीर , साधारण जल , इत्यादि। चाँदी विद्युत का सबसे बड़ा चालक होता है। कुचालक किसे कहते हैं ? वह पदार्थ जिसमे मुक्त …

Electrical Conductor-Bad Conductor or Insulator in Hindi Read More

संवेग से क्या समझते हैं ? What is Momentum ?

SAMVEG KYA HOTA HAI – SAMVEG SE KYA SAMAJHTE HAIN ? संवेग किसी गतिमान पिंड का वह गुण है, जो उसके द्रव्यमान और वेग के संयुक्त प्रभाव से उत्पन्न होता है। इसकी माप द्रव्यमान और गुणनफल और वेग से की जाती है। संवेग = द्रव्यमान x वेग  Momentum = Mass x Velocity  P = M x V     = gm x cm / sec (c. g. s)    = kg …

संवेग से क्या समझते हैं ? What is Momentum ? Read More

पराश्रव्य ध्वनी क्या है या पराश्रव्य तरंग क्या है ? What is altitude sound or what is altitude wave ?

PARASHRAVYA DHWANI KYA HOTA HAI YA PARASHRAVYA TARANG KYA HOTA HAI ? श्रव्य ध्वनि तथा पराश्रव्य ध्वनी को मनुष्य की श्रमण छमता  दृष्टि से ही ध्वनि को दो श्रेणी में बाटा गया है। ये दोनों प्रकार के ध्वनि पदार्थ के कम्पन्न से उत्पन्न होती है। कीसी  माध्यम से दोनों प्रकार के ध्वनियों का वेग सामान होता है। इस प्रकार पराश्रव्य ध्वनी वे ध्वनि तरंगे है जिनकी आवृति सुनने की ऊपरी …

पराश्रव्य ध्वनी क्या है या पराश्रव्य तरंग क्या है ? What is altitude sound or what is altitude wave ? Read More

What is Relative Velocity in Hindi ? आपेक्षिक वेग क्या है ?

APEKSHIK VEG KYA HOTA HAI HINDI ME ? जब दो कण गतिमान हो तो उनमे से किसी एक कण का दूसरे के प्रति आपेक्षिक वेग  उसका दूसरा स्थान परिवर्तन की समान्य दर है। माना कि दो गारियाँ  समांतर पटरियों पर बराबर वेग से समान दिशा मे चल रही है प्रत्येक गाड़ी में बैठे हुए यात्री को कुछ भी वेग नही जान पड़ेगा, अर्थात  दूसरी गाड़ी विराम मालूम पड़ेगी। अतः इस स्थिति में एक गाड़ी के प्रति दूसरी गाड़ी का आपेक्षिक वेग शून्य। …

What is Relative Velocity in Hindi ? आपेक्षिक वेग क्या है ? Read More

एस्ट्रॉयड्स क्या है ? What is asteroids in Hindi ?

ASTEROIDS KYA HOTA HAI HINDI ME ? एस्ट्रॉयड्स : ये 1600 से अधिक छोटे – छोटे चट्टानो के समूह हैं , जो  सूर्य के चारों ओर मार्स और जुपिटर के बिच घूमते रहते हैं। इनमे से सबसे बड़ा वाला सियर्स कहलाता है। जिसकी त्रिज्या 350 किग्रा है और इनमे से सबसे छोटे की त्रिज्या 50 मीटर है।

एस्ट्रॉयड्स क्या है ? What is asteroids in Hindi ? Read More

एस्ट्रॉयड्स क्या है ? What is asteroids in Hindi ?

ASTEROIDS KYA HOTA HAI HINDI ME ? एस्ट्रॉयड्स : ये 1600 से अधिक छोटे – छोटे चट्टानो के समूह हैं , जो  सूर्य के चारों ओर मार्स और जुपिटर के बिच घूमते रहते हैं। इनमे से सबसे बड़ा वाला सियर्स कहलाता है। जिसकी त्रिज्या 350 किग्रा है और इनमे से सबसे छोटे की त्रिज्या 50 मीटर है।

एस्ट्रॉयड्स क्या है ? What is asteroids in Hindi ? Read More

उल्का क्या होता है ? What is the Meteor in Hindi?

धातु और पत्थर के छोटे टुकड़े को उल्का कहते हैं। धूमकेतु को सूर्य के समीप पहुँचने से इसके टूटने से उल्का की उत्त्पत्ति होती है। 

उल्का क्या होता है ? What is the Meteor in Hindi? Read More

पुच्छल तारा या धूमकेतु क्या है ? What is the Caudate Star in hindi ?

धूमकेतु या पुच्छल तारा चट्टानों के समान धातु से बना है, जो बर्फ,  पानी, अमोनिया और मीथेन के मेल से बनता है। 

पुच्छल तारा या धूमकेतु क्या है ? What is the Caudate Star in hindi ? Read More

चंद्रमा क्या है, और इसका द्रव्यमान क्या है ? What is the moon, and its mass is ?

हमारी पृथवी  का चन्द्रमा एक स्वाभाविक उपग्रह है। और इसका द्रव्यमान 7.35 x 1022 Kg. है, और इसका औसत व्यास 3480  K.M है।  

चंद्रमा क्या है, और इसका द्रव्यमान क्या है ? What is the moon, and its mass is ? Read More